Saturday, May 21, 2022
More

    बंद कर दो अपने टीवी, ये नफ़रत के सौदागर आपके बीच दंगे कराके छोड़ेंगे

    आज की भारतीय मीडिया सबसे निचले स्तर पर है।मेनस्ट्रीम मीडिया का काम बस ध्रुवीकरण और तुष्टिकरण करना रह गया है।इसमें कोई शक नहीं होनी चाहिए कि भारतीय मीडिया ने नफरत फैलाने में कोई कसर छोड़ी है। चुनाव के समय मेनस्ट्रीम मीडिया का नफरती चेहरा खुलकर सामने आता है। मेनस्ट्रीम के सारे प्राइम टाइम किसी न किसी तरह से हिन्दू और मुस्लिम की ध्रुवीकरण करते ही दिखते हैं।

    प्राइम टाइम वह समय होता है जब करोड़ों लोग अपने ड्राइंग रूम में बैठकर टीवी देखते हैं।अधिकतर प्राइम टाइम में मुसलमानों के खिलाफ नफरत,दुष्प्रचार वाली खबरों को परोसा जाता है।मुसलमानों को यह महसूस कराया जाता है कि वह इस देश में रहने लायक नहीं हैं और उन्हें यहां से चले जाना चाहिए।

    इस्लामोफोबिया के शिकार यह भारतीय मेनस्ट्रीम मीडिया अब लोगों के घर तक पहुंच चुकी है। बुल्ली बाई,सुल्ली डील्स और क्लबहाउस इन के ताजा उदाहरण हैं। युवाओं की एक पीढ़ी को मीडिया ने बर्बाद कर दिया है। न्यूज़18इंडिया के एडिटर अमन चोपड़ा पिछले कुछ महीनों से अपने प्राइम टाइम “देश नहीं झुकने दूंगा” में मुसलमानों के खिलाफ डिबेट करते आए हैं। इनका नाम भले ही अमन है लेकिन अपने काम से यह अमन कायम नहीं करना चाहते हैं। अमन चोपड़ा ने अब तक 36 डिबेट शो होस्ट किया है जो किसी ना किसी तरह ने साम्प्रदायिक सौहार्द को बांट रहा है। आगामी चुनाव को देखते हुए अमन चोपड़ा लगातार हिंदू-मुस्लिम ध्रुवीकरण कर रहे हैं।

    एक प्राइम टाइम में “हिंदूओं के खिलाफ महागठबंधन”नाम से उन्होंने एक शो चलाया। जिसमें एक तरफ पीएम मोदी और सीएम योगी को दिखाया तो दूसरी तरफ मौलाना तौकीर रज़ा को।हाल ही में तौकीर रज़ा ने कांग्रेस को अपना समर्थन दिया है । मात्र एक सप्ताह पहले अमन ने “हिंदूओं को डराओ साइकिल पर आओ” टाइटल के साथ शो को होस्ट किया था। जहां एक ओर अखिलेश यादव थे तो दूसरी तरफ मुस्लिम नेता नाहिद हुसैन। डिबेट की शुरुआत ही चोपड़ा ने “हिंदूओं को कैराना से पलायन करवाने वाला नाहिद हुसैन” के साथ की।

    दिसंबर 2021 में अमन चोपड़ा ने “हिंदुत्व पर चोट हिंदू देंगे वोट” नाम से शो किया। इस शो में अमन ने कहा “हर रोज हिंदुओं और हिंदुत्व को गाली दी जाती है,और अगर कोई आतंकवाद,कट्टरपंथ और तीन तलाक पर बोलता है तो ये लोग उसे इस्लामोफोबिक कहते हैं”

    अमन चोपड़ा बिना रुके आगे कहते हैं कि “क्या देश में हिंदू फोबिया फैलाने की साजिश की जा रही है”
    नवंबर 2021 में अमन चोपड़ा ने “हिंदुत्व से डर आएंगे हिंदूफोबिया से फैलाएंगे” नाम से एक शो होस्ट किया।जहां फिर से एक बार पीएम मोदी और सीएम योगी के चेहरे को एक तरफ रखा गया और दूसरी तरफ राहुल गांधी और सलमान खुर्शीद की तस्वीर को रखा गया।इस शो पर चोपड़ा ने कहा “हिंदुत्व समाज को जोड़ता है,हिंदुत्व राष्ट्र का सनातन धर्म है, हिंदुत्व राष्ट्र की पहचान है, हिंदू और हिंदुत्व एक दूसरे के पूरक हैं।”
    इसके बाद चोपड़ा ने कहा “हिंदुत्व और हिंदुओं की आईडियोलॉजी को लिंच करने की साजिश की जा रही है”।

    आज की मीडिया खुलेआम फेक न्यूज़ दिखाकर लोगों के बीच ध्रुवीकरण करने की कोशिश कर रही है।
    मकटूब मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक नवंबर 2021 में अमन चोपड़ा ने अपने प्राइम टाइम टीवी शो में “थूक जिहाद” और “जिहाद-ए-थूक” टाइटल के साथ शो होस्ट किया था।

     

     

    कई राइट विंग सोशल मीडिया अकाउंट ने गाजियाबाद के रेस्टोरेंट का एक वीडियो वायरल कर भ्रामक ख़बरें चलाई थी कि मुस्लिम खाने में थूककर लोगों को खाना परोस रहे हैं। कई फैक्ट चेकर ने इस खबर का खंडन तथ्य के साथ किया था। जिसके बाद न्यूज़18 इंडिया ने किसी चोर की तरह इंटरनेट से वीडियो चुपचाप हटा दिया।

    ध्रुवीकरण करने में ज़ी न्यूज़ और सुदर्शन टीवी भी पीछे नहीं है। अगस्त 2020 में तो सुदर्शन टीवी के मालिक सुरेश चौहानके के “नौकरशाही जिहाद” नाम के शो को हाईकोर्ट ने बंद करा दिया था। प्राइम टाइम “बिंदास बोल” में सुरेश चौहानके ने खुलेआम मुसलमानों के खिलाफ नफरती,साम्प्रदायिक और गलत खबर चलाया था। सुरेश ने यूपीएससी पर सवाल उठाते हुए कहा “अचानक कैसे मुसलमान आईएएस और आईपीएस अफसरों की संख्या इतनी बढ़ गई है? आखिर इतने कठिन परीक्षा में कैसे इन्हें ज्यादा नंबर और रैंक मिल सकता है? क्या होगा अगर जामिया के जिहादी आपके जिले के डीएम और मंत्री के सचिव बन जाएंगे?”

    याद होगा कि जी न्यूज के सीनियर एंकर सुधीर चौधरी ने भी प्राइम टाइम में “जिहाद डायग्राम” बनाकर बताया था कि कैसे देश में अलग-थलग तरह से जिहाद हो रहे हैं। इसमें सुधीर ने सॉफ्ट जिहाद और हार्ड जिहाद का मतलब भी बताया था।

    यह नफरत बस मेनस्ट्रीम मीडिया तक ही सीमित नहीं रह गया है। सबसे पहले सोशल मीडिया पर एक इस्लामोफोबिक माहौल तैयार किया जाता है। याद होगा कि कैसे “कोविड जिहाद” नाम से पहले सोशल मीडिया पर एजेंडा सेट किया गया था। जिसके बाद मेनस्ट्रीम मीडिया ने मुद्दे ओवरटेक कर लिया था। 20 जनवरी को एआईएमएमएम के अध्यक्ष नावेद हमीद ने न्यूज 18 इंडिया के मालिक मुकेश अंबानी को पत्र लिख कर “देश नहीं झुकने देंगे” शो को तुरंत हटाने की मांग की है।

    नावेद हामिद ने कहा, “ये राजनीतिक, सांस्कृतिक या सामाजिक अर्थों के साथ सामान्य बहस नहीं हैं, लेकिन दुर्भाग्य से एक जहरीले मुस्लिम विरोधी एजेंडे में मिश्रित हैं।” पत्र में यह भी कहा गया है कि डिबेट शो “शातिर और दुर्भावनापूर्ण” है – और “झूठे और भ्रामक” आख्यानों से भरा है। “न्यूज 18 इंडिया पर बहस शो – वास्तव में मुस्लिम समुदाय के खिलाफ विकृति, पूर्वाग्रहों, घृणा और दुर्भावना से भरे हुए हैं।” हामिद ने कहा कि इसके अलावा, अगर चैनल की जांच की जाती है, तो नफरत की बहस का चरित्र “नरसंहार विरोधी अभियान” की जांच से बच नहीं सकता है।

     

    Advertisement
    Shruti Bhardwaj
    Journalist, who loves to write only Political news. Love Satire. Keen Observer and a good orator.

    संबंधित खबरें

    Conntect with Us

    898,779FansLike
    5,044FollowersFollow
    605,819SubscribersSubscribe
    - Advertisement -